मंत्री-कमिश्नर के पैर गंदे पानी में पड़े, 2 अफसरों को तुरन्त कर दिया निलंबित..!

जनसंपर्क मंत्री पीसी शर्मा राहुल नगर में सडक़ पर बहते गंदे पानी में पैर रखते हुए मंत्री, निगमायुक्त, पार्षद, अपर आयुक्त, एडिशनल कलेक्टर साथ निरीक्षण पर निकले। स्थिति ये रही कि मंत्री शर्मा को तो गंदे पानी की फिसलन से बचाये गार्ड ने हाथ पकडकऱ सड़क पार कराया।

loading...
उन्होंने जोन के प्रभारी मदद स्वास्थ्य अधिकारी ब्रिजेन्द्र गुप्ता, जोन 18 के प्रभारी स्वास्थ्य पर्यवेक्षक लखन खरे को निलंबित कर दिया। जोन छह के प्रभारी मदद स्वास्थ्य अधिकारी जगदीश टांक का एक दिन का वेतन काटा हैं। राहुल नगर में रास्ता पर बहुत पानी नाले के ओवरफ्लो होने से आ रहा था। अफसरों का तर्क है कि नाले पर निर्माण हो चुके हैं जिससे सफाई नहीं हो पा रही हैं।

यहां गए मंत्री-निगमायुक्त


- मंत्री शर्मा ने निगम अफसरों: पार्षदों के साथ पंचशील नगर, राजीव नगर नयाबसेरा, बाणगंगा, प्रोफेसर कॉलोनी, चार इमली, चूना भट्टी क्षेत्रों का भ्रमण किया।
- निर्देश दिए: बारिश से पहले सभी नाले, नालियों की सफाई का कार्य पूर्ण कर लिया जाए।
- पिछले साल यहीं बह गया था बच्चा: पंचशील नगर नाले में पिछले साल एक बच्चा बह गया था। यहां मंत्री शर्मा ने कहा कि नाले खुले होने से इस तरह की घटनाएं होती हैं। इसलिए नालों को बंद किया जाए।
- विरोध भी हुआ: प्रोफेसर कालोनी में रहवासियों ने सीवेज ट्रीटमेंट प्लांट निर्माण पर आपत्ति ली। लोगों का कहना था कि इससे क्षेत्र में बदबू और गंदगी हमेशा बनी रहेगी। जीना हैराम हो जाएगा।

मंत्री शर्मा ने इसके लिए दूसरा स्थान निश्चित करने के लिए संबंधित अधिकारियों को निर्देशित किया। यहां निगम अफसरों ने बताया कि शहर में सीवेज ट्रीटमेंट प्लांट के लिए बंसल हॉस्पिटल के पीछे चूना भट्टी के पास, चार इमली में काम चल रहा हैं।
Loading...