शादी के बाद ही दूल्हे ने घर से निकाल दिया दुल्हन को, वजह जान आपको भी नहीं होगा यकीन...!

जैसे ही किसी लड़के या लड़की की विवाह होती है तो बात की जाए, लड़की की सपनों की तो लड़की विवाह को लेकर बहुत प्रकार के सपने संजोती है और प्रत्येक वह रस्मों रिवाज में उत्साहित रहती है। जो विवाह के वक़्त उसे पूरे करवाए जाते हैं। ऐसा ही कुछ हुआ एक जोड़े के साथ, लड़की की रात में विवाह हुई और विवाह के बाद विदाई करके वह अपने ससुराल पहुंची। ससुराल पहुंचने पर उसकी सास ने उस की आरती उतारकर उसके ससुराल में स्वागत किया। उसके बाद में उनके मुंह दिखाई की गई और जब वह मुंह दिखाई हुई तो उन स्त्रियों में से किसी एक स्त्री की नजर दुल्हन के सर पर गई और जैसे ही उसने सिर पर देखा तो उसने कानों में कानाफूसी शुरू कर दी।

और धीरे-धीरे बात ये फैल गई कि लड़की के सर पर जख्म है और उसके सिर पर बाल नहीं है। जैसे ही ये बात दूल्हे के कान तक गई तो दूल्हे ने तुरंत लड़की के मायके फोन किया और कहा कि आप तुरंत आओ और अपनी बेटी को वापस घर ले जाओ। मैं इस लड़की को नहीं रख सकता। जैसे ही वक़्त बीतता गया और दुल्हन के मायके से कोई नहीं आया तो दूल्हे ने दुल्हन को घर से बाहर निकाल दिया।

जब दुल्हन को घर से निकाल दिया गया तो वह रोती हुई बस स्टैंड पहुंची और बस स्टैंड पर उसका बहनोई उसे लेने आया था। जैसे ही उसने अपने बहनोई को देखा तो वह जोर जोर से रोना शुरु कर दी और उसे रोता देख वहां के आस-पास के गांव के लोग इकट्ठा हो गए।

वहां पर एकत्रित लोगों ने जब पूरी बात जानी तो उसे अपने ससुराल वालों को लेकर अपना नाराजगी दिखाया। और जब ये बात लड़की के ससुराल वालों को पता चली, तो दूल्हा और उसका पिता दोनों दुल्हन को वापस लेने आए। उन्हें लगा कि यदि अभी हमने कुछ किया, तो विषय बिगड़ सकता है इसलिए वह दुल्हन को वापस ले गए।

कुछ दिनों के बाद लड़की के मायके वालों को भी बुलाया गया और लड़की के ससुराल वाले दोनों संबंधी आपस में गले मिले और एक दूसरे को वादा किया कि हम किसी भी प्रकार से लड़की को ससुराल में दुख नहीं होने देंगे। उसे किसी भी प्रकार की तकलीफ ससुराल में नहीं होगी। इस प्रकार का वादा करते हुए लड़की को ससुराल वापस लाया गया।
Loading...