रमजान के पाक महीने में साइकिल से मक्का जा रहे हैं यह दो युवक, रोजे में भी जारी है इनकी यात्रा...!

अगर इंसान में ताकत और हौसला हो तो वह किसी भी हद तक जा सकता है। यदि ठान लिया तो एक गरीब बच्चा चाँद को छू सकता है और वैज्ञानिक बन सकता है। जिस प्रकार लोगो में पढ़ाई को लेकर शौक है, उसी तरह कुछ लोगों को बाइक राइडिंग और साइक्लिंग का शौक है। जो लोग साइकिलिंग का शौक रखते हैं वह कितने भी दूरी तय कर सकते हैं।

अगर आपको बात पर विश्वास नहीं हो रहा है, तो उस समाचार को पढ़ने के बाद हम आपको जो बात बताने जा रहे हैं, तो आप निश्चित हो जाएंगे। दरअसल, भारत के बैंगलोर में रहने वाले मोहम्मद सलीम और रिजवान अपनी साइकिल से मक्का के दर्शन करने के लिए पहुंचे हैं। दोनों ने साइकिल पर सवार होकर मक्का पहुंचने की तैयारी की। इन दोनों ने 3,800 किलोमीटर की दूरी तय की।

रोजे में भी चलाते रहे साइकिल


विशेष बात ये है कि दोनों साइकिल सवार रमजान के पवित्र महीने में रोजा रखकर साइकिल चलाते हैं यह यात्रा भारत से पाकिस्तान होते हुए ईरान, इराक और कुवैत के रास्ते सऊदी अरब पहुंचने की थी। लेकिन इन लोगों को वीजा संबंधी समस्याओं का सामना करना पड़ा। जिसके बाद इन लोगों ने अपना यात्रा मार्ग बदल दिया और ओमान, ईरान और यूएई के लिए रवाना हो गए। अब ये लोग जुलाई के अंत में मक्का जाएंगे।

आगे का रास्ता काफी कठिन है


दोनों दोस्तों की जोड़ी भारत से संयुक्त अरब अमीरात पहुंच गई है, किन्तु आगे की राह दोनों के लिए काफी कठिन होगी। क्योंकि ये खाड़ी देश से आगे आता है और पथरीली सड़कों पर साइकिल चलाना बहुत मुश्किल है। दोनों दोस्तों की ये कहानी इन दोनों सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रही है। लोग इन दोनों कहानियों की कहानी को प्रेरणा बता रहे हैं और वे कह रहे हैं कि यदि दिल में जुनून हो तो भगवान भी रास्ते खोल देते हैं।
Loading...