सोशल मीडिया पर हीरो बना केन्या का ये आदमी, जानें क्या है कारण...!

यदि कोई व्यक्ति मजबूत इरादों के साथ किसी काम को पूरा करने की ठान ले तो, इस संसार में ऐसा कुछ भी नहीं है जो वो प्राप्त नहीं कर सकता। केन्या में रहने वाले अकेले ही एक व्यक्ति ने ऐसा ही करके दिखाया है। केन्या के गांव में निकोलस मुचामी ने अकेले ही 1 किमी लंबी सडक़ का निर्माण किया है।

मुचामी का सडक़ बनाने वाला वीडियो सोशल मीडिया पर बहुत वायरल हो रहा है। इस साहसिक कार्य के लिए उनकी प्रत्येक ओर से सराहना की जा रही है। इस साहसिक और मेहनती कार्य के बाद निकोलस अपने गांव के हीरो बन चुके हैं। निकोलस मुचामी ने अपने गांव में एक किलोमीटर की सडक़ का निर्माण किया है जो उनके गांव को केगांडा शॉपिंग सेंटर से जोड़ता है। 45 वर्षीय निकोलस जो कि मजदूरी का काम करते हैं।

उन्होंने अपना मजदूरी का काम छोडक़र सारा समय सडक़ के निर्माण में लगाया। इस वक़्त निकोलस ने अपनी 6 दिनों की कमाई लगाकर अकेले दम पर इस सडक़ का निर्माण किया। वो निरंतर 6 दिनों तक सुबह 6 बजे से शाम के 6 बजे तक सडक़ का निर्माण करने में लगाते थे।

डेली नेशन के साथ बातचीत करते हुए मुचामी ने बताया कि, ‘मैंने कई बार मेरे गांव के नेताओं के साथ सडक़ निर्माण को लेकर बातचीत की लेकिन उन्होंने मेरी एक ना सुनी। इसके बाद मैंने खुद ही ठान लिया कि इस सडक़ का निर्माण मुझे स्वयं ही करना पड़ेगा। उस समय मैंने अपने खेत के औजारों का इस्तेमाल करते हुए सडक़ बनाने का फैसला किया।’

मुचामी द्वारा बनाई गई इस सडक़ का इस्तेमाल ग्रामीणों के अलावा केगांडा माध्यमिक विद्यालय और केगांडा प्राथमिक विद्यालय के छात्रों द्वारा भी किया जा रहा है।

45 वर्षीय मुचामी ने सडक़ निर्माण के बारे में बताया कि वह अभी तक सडक़ की लेवलिंग को पूरा नहीं कर पाए हैं और जल्द ही काम से वापस लौटने के बाद वो ये काम भी शुरु कर देंगे।
मुचामी के गांव वाले उनके इस कार्य की सराहना करते हुए नहीं थक रहे हैं।
Loading...