PM मोदी मिडिल क्लास को ये गिफ्ट देने की तैयारी में मिल सकती है 5 लाख की छूट…!

पीएम नरेंद्र मोदी की अगुवाई में एक बार फिर एनडीए सरकार की धमाकेदार वापसी हुई है। इस नई सरकार का पहला पूर्ण बजट जुलाई में पेश होने की आशा है। इस बजट में मोदी सरकार मध्‍यम वर्ग को ध्‍यान में रखते हुए बहुत बड़े उपहार का ऐलान कर सकती है। इसमें सबसे बड़ा तोहफा टैक्‍स छूट का होने की संभावना है। अब तक क्‍या था।

लोकसभा चुनावों से पहले अंतरिम बजट पेश करते हुए तत्कालीन वित्त मंत्री पीयूष गोयल ने 5 लाख तक की सालाना कमाई करने वाले नौकरी पेशा को टैक्‍स छूट दी थी किन्तु स्‍लैब में कोई बदलाव नहीं हुआ था। कहने का मतलब ये है कि अंतरिम बजट में 5 लाख तक की सालाना कमाई करने वालों को टैक्‍स देने के झंझट से मुक्‍त किया गया था। वहीं इससे ज्यादा कमाई वाले नौकरीपेशा को पुराने टैक्‍स स्‍लैब के तहत टैक्‍स देना होता है।

अब क्‍या आशा है-


अब मोदी सरकार की वापसी के बाद टैक्‍स स्‍लैब में बदलाव की आशा की जा रही है। दरअसल, अंतरिम बजट पेश करते हुए वित्‍त मंत्री पीयूष गोयल ने 5 लाख तक की कमाई को टैक्‍स फ्री करते हुए कहा था कि ये ट्रेलर हैं, जब पूर्ण बजट जुलाई में पेश होगा तो उसमें मिडिल क्लास और नए मिडिल क्लास का ख्याल रखा जाएगा। ऐसे में उम्‍मीद की जा रही है कि मोदी सरकार पूर्ण बजट में इस वादे को निभा सकती है।

इस बात की आशा की जा रही है कि अंतरिम बजट में 5 लाख रुपये तक की आमदनी पर इनकम टैक्स छूट को बरकरार रखा जा सकता है। इसके सिवाय, पूर्ण बजट में मिडिल क्लास के लिए इनकम टैक्स स्लैब में बदलाव किया जा सकता है।

यही नहीं, इनकम टैक्स निवेश छूट सीमा 1.50 लाख रुपये से बढ़ाई जा सकती है। इसके अलावा बहुत दशक से चले आ रहे इनकम टैक्स कानून में बदलाव किया जा सकता है। यदि ये बदलाव होते हैं तो देश के करोड़ों टैक्‍सपेयर्स को लाभ होगा।

बता दें कि इससे पहले केवल 2.5 लाख तक की सालाना कमाई वाले लोग टैक्‍स स्‍लैब से बाहर थे। वहीं 2.5 लाख रुपये से 5 लाख रुपये तक की सालाना कमाई करने वाले लोग 5 फीसदी के टैक्‍स स्‍लैब में आते थे।