4 माह से प्रेमिका की कब्र पर सो रहा था प्रेमी और एक दिन कब्र से निकाल लिया शव फिर उसके बाद..!

कहते हैं कि प्यार और दुश्मनी जब किसी से होती है तो हद पार होती है। उत्तर प्रदेश के हापुड़ में एक ऐसे मामले ने ही चारों तरफ खलबली मचा कर रख दी है। जो कोई भी यह खबर सुन रहा है उसे इस बात पर विश्वास नहीं हो रहा कि कोई ऐसा भी कर सकता है। एक प्रेमी की दीवानगी इस हद तक पहुंच  गई थी कि वह रोजाना अपनी प्रेमिका की कब्र पर जाकर सोता था। कब्र पर सोने के दौरान एक दिन उसे अचानक शक हुआ कि प्रेमिका की मौत में कोई गड़बड़ अवश्य है। उसे लगा कि प्रेमिका की हत्या की गई है।
loading...
फिर क्या था, उसने अपनी प्रेमिका की मौत के 4 महीने बाद कोर्ट का दरवाज़ा खटखटाया और कोर्ट से बॉडी का पोस्टमॉर्टम करने की गुहार लगायी। कोर्ट ने उसकी यह मांग मान ली और बॉडी को पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया गया। प्रेमी की यह बात मृतिका के घरवालों को हज़म नहीं हुई। उन्होंने प्रेमी पर फायरिंग करवा दी। इस फायरिंग में दो लोग बुरी तरह घायल हो गए जिन्हें पास के अस्पताल में भर्ती कराया गया। एक की हालत गंभीर होने पर उसे मेरठ रेफर कर दिया गया है। फ़िलहाल पुलिस मामले की जांच-पड़ताल में जुटी हुई है।

आपको बता दें कि यह मामला थाना सिम्भावली क्षेत्र के गांव मुरादपुर का है। गांव के ही युवक-युवती एक दूसरे से प्यार कर बैठे थे। उनका यह प्यार लड़की के घरवालों को पसंद नहीं था। एक दिन अचानक  (आज से लगभग 7 महीने पहले) युवती की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो जाती है और परिवार वाले शव को पास ही के एक कब्रिस्तान में दफना देते हैं। इस बात का पता चलते ही नदीम रोज़ अपनी प्रेमिका की कब्र पर जाकर सोने लगा।

इसी बीच 4 महीने बाद उसे जब इस बात का पता चला कि प्रेमिका की मौत उसके ही घरवालों ने की है तो उसने कोर्ट का मदद लेते हुए उन पर हत्या का मुकदमा दर्ज करवाया और शव के पोस्टमॉर्टम की मांग की। कोर्ट ने उसकी यह मांग मान ली। कोर्ट के आदेश के बाद भारी पुलिसफ़ोर्स शव को निकालने कब्रिस्तान पहुंची जिसके बाद शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भेजा गया। पोस्टमॉर्टम में खुलासा हुआ कि लड़की की मौत कीटनाशक दवा से हुई है। बात सामने आते ही लड़की के परिवारवालों में खलबली मच जाता है और गुस्साए परिजन लड़के के परिवार पर लगातार फायरिंग करते हैं। फायरिंग में दो लोग बुरी तरह घायल हो जाते हैं जिन्हें पास के अस्पताल में एडमिट किया जाता है। वहीं, लोगों में इस बात का गुस्सा है कि सब कुछ जानते हुए लड़के के परिवारवालों को सुरक्षा क्यों नहीं दी गई और पुलिस ने अब तक लड़की पक्ष पर कोई कार्यवाई क्यों नहीं की है।