नवाज शरीफ की बेटी ने बोला इमरान खान को डरपोक, कहा मोदी तुम्हारा फोन तक नहीं उठाते...!

पाकिस्‍तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ की बेटी मरियम नवाज ने पीएम इमरान खान पर बड़ा हमला बोला है। मरियम ने मंगलवार को कहा कि भारत के प्राइम मिनिस्‍टर नरेंद्र मोदी, इमरान खान का जरा भी सम्‍मान नहीं करते हैं। इस वजह से ही फरवरी में जब दोनों देशों के बीच तनाव चरम पर था और इमरान, मोदी को कॉल कर रहे थे तो उनके फोन तक का जवाब देना भी मोदी ने वाजिब नहीं समझा। मरियम ने यह बात उस कार्यक्रम में कही जो पाकिस्‍तान के परमाणु परीक्षणों पर आधारित था। आपको बता दें कि पीएम मोदी ने अपने दूसरे कार्यकाल के शपथ ग्रहण समारोह के लिए पाकिस्‍तान को नजरअंदाज कर दिया है और इस बार पाक पीएम को इनवाइट नहीं दिया गया है। जबकि साल 2014 में नवाज शरीफ शपथ ग्रहण के लिए भारत आए थे।

इमरान केवल एक कठपुतली


loading...
मरियम ने कार्यक्रम से अलग मीडिया से बातचीत में कहा, 'मैं चुने हुए और अक्षम पीएम कोबताती हूं कि क्‍यों पीएम मोदी और दुनिया के बाकी नेता आपकी इज्‍जत नहीं करते हैं। क्‍योंकि उन्‍हें मालूम है कि आप लोगों के वोट चुराकर दूसरों की मदद से सत्‍ता में आए हैं। आप किसी और के संगीत पर डांस करते हैं।' मरियम का संकेत यहां पर देश की ताकतवर मिलिट्री की ओर था। मरियम ने आगे कहा, 'इमरान खान, आप एक कठपुतली से अधिक कुछ नहीं हैं। आपके पास खड़े होने तक की हिम्‍मत नहीं है। आपकी इस कारण से दुनिया में कोई इज्‍जत नहीं है।' मरियम ने यहां ये बात भी ध्‍यान दिलाई कि इमरान किसी जमाने में उनके पिता नवाज शरीफ को पीएम मोदी का दोस्‍त कहते थे।

इमरान की संसार में कोई इज्‍जत नहीं


इस वक़्त मरियम ने इमरान को याद दिलाया कि पीएम मोदी हों या फिर पूर्व पीएम अटल बिहारी वाजपेयी, दोनों ही उनके पिता के कार्यकाल में पाकिस्‍तान आए थे। मरियम ने भड़कते हुए कहा, 'मोदी, नवाज शरीफ से मिलने पाकिस्‍तान आए। वाजपेयी, नवाज शरीफ से मिलने पाकिस्‍तान आए क्‍योंकि वह चुने हुए पीएम की इज्‍जत करते थे और संसार भी उनका सम्‍मान करती थी। लेकिन आपके केस में तो मोदी फोन तक उठाना नहीं चाहते हैं क्‍योंकि उन्‍हें पता है कि आप एक झूठे पीएम हैं।' मरियम के अनुसार वह ये बात साफ कर देना चाहती हैं कि वह, इमरान को मोदी का दोस्‍त नहीं कहेंगी। पाकिस्‍तान, भारत के साथ शांति चाहता है और युद्ध किसी भी प्रकार की परेशानी का हल नहीं है।

दोनों देशों के बीच तनावपूर्ण हालात


14 फरवरी को पुलवामा आतंकी हमले के बाद से भारत और पाकिस्‍तान के बीव तनाव चरम पर पहुंच गया था। 40 सीआरपीएफ के जवान उस हमले में शहीद हो गए थे और इसके बाद 26 फरवरी को इंडियन एयरफोर्स (आईएएफ) ने बालाकोट में उपस्थित जैश-ए-मोहम्‍मद के ट्रेनिंग सेंटर पर हवाई हमले किए थे। 27 फरवरी को पाकिस्‍तान एयरफोर्स के 24 जेट्स भारत में दाखिल हुए थे। आईएएफ के मिग-21 ने पाकिस्‍तान एयरफोर्स के एफ-16 को ढेर कर दिया था।

इमरान का फोन तक नहीं किया अटेंड


इस तनावपूर्ण स्थिति के बाद इमरान की ओर से कहा गया था कि उन्‍होंने पीएम मोदी को कॉल किया था। इमरान के अनुसार वह पीएम मोदी को बताना चाहते थे कि पाकिस्‍तान मसले को नहीं बढ़ाना चाहता है। मरियम ने कहा कि एक अकुशल और अक्षम पीएम की कारण से आज पाकिस्‍तान संसार में भिखारी की प्रकार हो गया है। मरियम के अनुसार इमरान जैसे पीएम की कारण से ही आज पाकिस्‍तान कुछ डॉलर्स के लिए आईएमएफ के पास गिरवी हो गया है।
Loading...