यह लड़की अपना यूरिन बेचकर हर माह कमाती थी लाखों, वजह जानकर उड़ जाएंगे आपके होश...!

पैसे कमाना भी एक कला होती है, जो हर किसी को नहीं आती। लोग जल्दी से जल्दी अमीर बनने और पैसे कमाने के लिए क्या कुछ नहीं करते हैं। कोई बिजनेस में निवेश करता है, तो कोई अपनी बेहतरीन तरकीबों से लाखों-करोड़ों कमाते हैं। लेकिन क्या कभी आपने सुना है कि कोई अपनी यूरिन बेचकर लाखों कमाए। नहीं ना, लेकिन ये एकदम सत्य हैं।

loading...
अमेरिका के फ्लोरिडा में रहने वाली एक लड़की अपना यूरिन बेचकर घर बैठे लाखों रुपये कमाती थीं। जब लोगों को उसके बारे में मालूम चला तो आश्चर्य में पड़ गए कि आखिर ऐसा क्या विशेष है उसकी यूरिन में कि लोग उसे खरीदने के लिए बेयकुल रहते हैं। तो चलिए हम आपको उसकी पूरी सच्चाई बताते हैं।

मामला कुछ यूं है कि कॉलेज में पढ़ने वाली एक लड़की ने दो साल पहले एक ऑनलाइन एड सर्विस पर अपना यूरिन बेचने के लिए विज्ञापन दिया था, जिसमें उसने लिखा था, 'मैं 3 महीने की गर्भवती हूं, जो भी मेरी पॉजिटिव गर्भवती टेस्ट और यूरिन को अपने किसी 'विशेष काम' के लिए प्रयोग करना चाहता है तो मैं उसे ये दे सकती हूं। यूरिन की एक या दो बूंद के लिए मैं उससे 25 डॉलर का चार्ज करूंगी।'

लड़की के इस हैरतअंगेज विज्ञापन के सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद उसके पास यूरिन खरीदने वालों की भीड़ लग गई। लड़की का यूरिन खरीदने वालों में अधिकतर लड़कियां और महिलाएं थीं। इस तरह यूरिन बेचकर वो प्रतिदिन  200 डॉलर यानी करीब 12,000 रुपये कमाती थीं।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, लड़कियां उस यूरिन से गर्भवती टेस्ट करती थीं और पॉजिटिव गर्भवती टेस्ट को दिखाकर ऐसे पुरुषों को ब्लैकमेल करने का काम करती थीं, जो उनसे विवाह का झांसा देकर शारीरिक संबंध बनाते थे और फिर विवाह से मुकर जाते हैं। इसके जरिए वो उनपर दबाव बनाती थीं।

जबकि यूरिन बेचने वाली उस लड़की का कहना था कि खरीदने वाले उस यूरिन का क्या करते हैं, इसके बारे में उसे कुछ नहीं मालूम। उसका कहना था कि वो ऐसा करके लाखों रुपये कमाती है और ये सब वो इसलिए करती थी, ताकि वो अपने कॉलेज की फीस भर सके।

ये खबर लोगों के सामने तब आई, जब एक न्यूज चैनल ने इसका पता करने के लिए एक स्टिंग किया। एक रिपोर्टर ग्राहक बनकर लड़की के पास आया। इस दौरान पूछने पर लड़की ने बताया कि वो यूरिन बेचकर प्रतिदिन करीब 12,000 रुपये कमाती थीं।यदि खबर सामने आने के बाद ये विज्ञापन हटा लिया गया था, लेकिन तब तक सोशल मीडिया पर ये खबर फैल चुकी थीं।