जब एक भेड़ चराने वाली लड़की फ्रांस की शिक्षा मंत्री बनी, अवश्य देखें तस्वीरें..!

आज हम आपको एक ऐसी लड़की की कहानी बताने जा रहे हैं, जिसे हम सबको पढ़नी चाहिए और हमे उनके जीवनी से कुछ ना कुछ अवश्य सीखना चाहिए।

loading...
आज हम जिस लड़की के बारे में बताने जा रहे हैं उनकी जीवन उतार चढ़ाव से भरी हुई है। तो आइए देखते हैं उनकी जीवन और उनकी भेड़ चराने से लेकर शिक्षा मंत्री बनने तक का सफर।

एक ओर जहाँ डोनाल्ड ट्रम्प अपने देश से प्रवासियों को निकालने पे लगे हुए हैं, ऐसी डरावनी स्थिति में अन्याय बेल्सेसेम के लिए प्रेरणा हैं।नजात के पिता फ्रांस में मजदूरी करते थे।इनका जन्म 1977 में मोरोक्को में हाशिए के एक गांव नादोर में हुआ था।

पिता के बुलाने पर 1982 में वे फ्रांस आयि और इन्होंने 2002 में अपनी ग्रेजुएशन पूरी की।ग्रेजुएशन के बाद इन्होंने सोशलिस्ट पार्टी जॉइन कर लिया। इन्होंने नागरिकों को सस्ते घर दिलाने के लिए और भेदभाव के विरुद्ध आंदोलन किया।
नजट 2008 में काउंसिल मेंबर चुनी गईं और उसके बाद से ये लगातार चुनाव जीतते ही रही हैं।2012 में इन्हे स्त्री अधिकार मंत्री चुना गया और 2014 में इन्हे शिक्षा मंत्री चुना गया।बचपन में भेड़ चराने के बावजूद इतनी बड़ी उपल्धि प्राप्त करना काफी ही बड़ी बात है।