पत्‍नी को था कैंसर, पति ने उपचार में खर्चे किये करोड़ों, जब सामने आया वास्तविकता तो पकड़ लिया माथा..!

इस बात में तो कोई दो राय नही है कि इस संसार में कब कौन किसको धोखा दे दे कुछ कहा नही जहा सकता है। आज हम एक ऐसी ही घटना के संबंध में बात करने वाले है, जिसे सुनने के पश्‍चात आप लोग भी हैरानी में पड़ जायेगें। आपको बता दें कि इस घटना के अनुसार पत्‍नी के कैंसर में उसके उपचार के लिये लगाये दो करोड़ रूपये,जब रोग की सच्‍चाई सामने आयी तो पति के साथ परिवार वाले हुये परेशान, फिर किया कुछ ऐसा की आप लोग भी सोच में पड़ जायेगें।

loading...
आपको बता दें कि ये घटना इंग्‍लैंड के लॉगबॉरो की है। जहां पर 36 वर्षीय जैस्मिन मिस्त्री ने 2013 में अपने पति विजय काटेचिया के सामने खुद को कैंसर होने का ड्रामा रचा। उसने अपना ब्रेन स्‍कैन पति को दिखाया था।पति को परेशानी तब हुई जब उसके ब्रेन का स्‍कैन गूगल पर पड़े एक स्‍कैन से मैच हो गया। पति ने जब पूछा तो जैस्‍मीन ने अपना झूठ एक्‍सेप्‍ट भी कर लिया।

जबकि जैस्‍मिन ने अपने झूठ को सिद्ध करने के लिए पूरा प्लान बना रखा था। अलग-अलग सिम का इस्तेमाल कर वो अपने हसबैंड को डॉक्टर बनकर वॉट्सऐप पर मैसेज करती थी।इन फेक मैसेज का उपयोग कर उसने अपने पति को यकीन दिला दिया और पति ने उसकी बात मानकर पैसों का इंतजाम भी शुरू कर दिया। पति ने परिवार वालों से मदद मांगी। वो निरंतर घर में बीमारी का नाटक जारी रखे हुए थी,पर उसके पति को एक दिन उस पर शक हो ही गया।

आपकी जानकारी के लिये बता दें कि जैस्मिन के इस झूठ का पर्दा उठते ही नवंबर 2017 में उसे गिरफ्तार कर लिया गया। पुलिस के अनुसार, उसने अपने फैमिली और 8 बाहर के लोगों समेत 20 लोगों से सवा दो लाख रुपए ऐंठे थे। इस शुक्रवार को नॉर्थ ईस्ट लंदन की स्नेयर्सब्रुक क्राउन कोर्ट ने फ्रॉड के मामले में उसे 4 साल कैद की सजा सुनाई है। स्त्री के पति ने विषय में कहा कि मैं इस बात से कभी नहीं उबर पाउंगा। मेरा इंसानियत से भरोसा ही उठ गया है,इंग्‍लैंड के लॉगबोरो की रहने वाली इस महिला ने अपने पति और परिवार को करोड़ों का चूना लगाया। जबकि इस विषय में कोर्ट ने स्त्री को 4 वर्ष जेल की सजा सुनाई है।