अब पौधों के लिए भी आएगी एंबुलेंस, दी जाएंगी कई सारि सेवा...!

भारत के ग्रीन मैन ऑफ इंडिया के नाम से लोकप्रिय डॉ अब्दुल गनी ने पर्यावरण को लेकर एक बेहतरीन प्रयास की हैं।डॉ अब्दुल चेन्नई के पर्यारणविद् माने जाते हैं। अब्दुल गनी की इस नई प्रयास से पर्यावरण को अधिक लाभ पहुंचेगा। दरअसल, डॉ अब्दुल गनी ने ट्री-एंबुलेंस लॉन्च किया है जो पौधों की देखभाल करेगा।

loading...
ट्री-एंबुलेंस का लक्ष्य खास रूप से पौधों की देखभाल करके एक सकारात्मक प्रभाव पहुंचाना हैं। ट्री-एंबुलेंस का यह विचार है कि पेड़ों को बीमार पड़ने से बचाया जाए और फिर उनकी जड़ों को मजबूत किया जाए। जब पूरे देश में प्रदूषण का स्तर तेजी से बढ़ रहा है हरे-भरे जगह औद्योगिकीकरण और वाणिज्यिक स्थानों में बदल रहे हैं तो यह आवश्यक है कि उगाए गए पौधों को संरक्षित किया जाए।

गनी ने एएनआई को बताया कि दो महीने में नई दिल्ली पहुंचने के लिए एम्बुलेंस 5 जून को तमिलनाडु और देश भर में अपनी यात्रा प्रारम्भ करेगी। यह एंबुलेंस स्कूलों और कॉलेजों में भी रुकेगा और छात्रों को ग्रीन कवर पर शिक्षित करेगा।

तमिलनाडु 2016 में वरदा चक्रवात और 2018 में गाजा चक्रवात जैसी प्राकृतिक आपदाओं से प्रभावित हुआ था, जिससे लाखों पेड़ उखड़ गए थे। ट्री एम्बुलेंस का लक्ष्य हरियाली को बहाल करने और उपथित पेड़ों की देखभाल करना हैं। ट्री एम्बुलेंस द्वारा प्राथमिक इलाज, बीज बैंक, वृक्षों की शिफ्टिंग, वृक्षों का सर्वेक्षण, वृक्षों के वितरण की सुविधा दी जाएगी।