महिला अफसर ने बेटे को जन्म देकर कर लिया आत्महत्या, सामने आया चौंकाने वाला कारण..!

बिहार की राजधानी पटना की रहने वाली एक स्त्री अधिकारी ने मुंबई में खुदकुशी कर ली है। स्त्री ने पहले अपने गर्भ में पल रहे बच्चे को जन्म दिया। उसके कुछ दिनों बाद अपनी बहन के घर में खुदकुशी कर ली। इसके लिए लेडी अफसर ने सुसाइड नोट में पति और उसके परिजनों को जिम्मेवार ठहराया है।

loading...
दरअसल, न्यू इंडिया इंश्योरेंस कंपनी में प्रशासनिक अधिकारी के तौर पर कार्यरत ज्योतिबाला की विवाह 19 महीने पहले ही हुई थी। वह गर्भवती थी, किन्तु बैंक अधिकारी पति चाहता था कि वह गर्भपात करा ले, लेकिन महिला अफसर बच्चे को जन्म देना चाहती थी। महिला ने एक सुसाइड नोट छोड़ा है, जिसमें पति और उसके परिजनों पर खुदकुशी के लिए जिम्मेदार ठहराया है। साथ ही सुसाइड नोट में ज्योति ने अपने अबोध बच्चे के लिए न्याय की गुहार भी लगाई है। वहीं, घटना के बाद से सभी आरोपी फरार हैं।

न्यूज 18 इंडिया की रिपोर्ट के मुताबिक पटना सिटी में रहने वाली ज्योति बाला की विवाह नवंबर 2017 में सालिमपुर अहरा के रहने वाले विमल वर्मा से हुई थी। ज्योति बाला, द न्यू इंडिया इंश्योरेंस कपंनी लिमिटेड में अधिकारी थी। वहीं, पति विमल बैंक ऑफ बड़ौदा में बतौर प्रबंधक यूपी के सुल्तानपुर में काम करता है। 9 जून को महाराष्ट्र के बसई में ज्योति ने अपनी बहन के घर फांसी लगा ली।

सुसाइड नोट के आधार पर महाराष्ट्र पुलिस ने ज्योति के पति विमल वर्मा, ससुर विजय वर्मा, सास मीरा शरण और अन्य लोगों के विरुद्ध विषय दाखिल किया है। वहीं, मृतका का पति और ससुरालवाले घटना के बाद से फरार हैं। आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए महाराष्ट्र पुलिस ने सालिमपुर अहरा स्थित ससुराल, इलाहाबाद बैंक में कार्यरत ननद और पीएचईडी में कार्यरत ननदोई तक पहुंचने की प्रयाश की किन्तु घर पर ताला बंद मिला। मृतक ज्योति के पति ने गिरफ्तारी से बचने के लिए ऑफिस में छुट्टी की एप्लीकेशन दे रखा है, जिसे ऑफिस के अधिकारी ने पुलिस को दिखाया।

वहीं, मृतका के परिजनों के अनुसार, विवाह के कुछ दिन बाद से ही ज्योति को ससुराल में प्रताड़ित किया जाने लगा था। पति उससे बात तक नहीं करता था। गर्भवती होने पर पति उस पर गर्भपात कराने के लिए दबाव बना रहा था, किन्तु उसने अपने मायके जाकर तीन माह पहले एक बेटे को जन्म दिया था। कुछ दिन पहले ज्योति को महाराष्ट्र में रहने वाली उसकी बहन अपने साथ ले गई थी, ताकि उसका मन थोड़ा संभल सके, किन्तु वहां ज्योति ने खुदकुशी कर ली।