15 दिन पहले लड़के के साथ पकड़ी गई, और अब स्कूल के बाहर ये काम करते हुए पकड़ी गई

मुरैना जिले में निर्भया मोबाइल ने चंबल कॉलोनी से एक छात्रा को पकड़ कर उसके पिता के सुपुर्द कर दिया। कक्षा 12 में पढऩे वाली छात्रा सुनसान एरिया में मोबाइल पर लंबे समय से बात कर रही थी। तभी किसी ने निर्भया मोबाइल को फोन कर दिया। निर्भया मोबाइल प्रभारी लक्ष्मी भदौरिया ने तत्परता दिखाते हुए तुरंत मौके से छात्रा को पकड़ा और उसको पूछताछ कर उसके पिता के सुपुर्द कर दिया।
loading...
विदित हो कि चंबल कॉलोनी का शासकीय मिडिल स्कूल 10.30 बजे से खुलता है। सुबह आठ से 8.30 बजे तक एक लडक़ी मोबाइल पर अपने ब्यॉय फेंरंड से बात कर रही थी। निर्भया मोबाइल की प्रभारी लक्ष्मी भदौरिया स्टाफ के साथ मौके पर पहुंची। जब छात्रा से पूछताछ की तो उसने बताया कि मैं अपनी सहेली को फोन कर रही थी, उसके साथ ट्यूशन जाना है। 
जब उसके मोबाइल को चेक किया तो मुस्कान के नाम से कॉलिंग थी। पुलिस की महिला आरक्षक ने उसी नंबर पर कॉलिंग की तो कोई लडक़ा बात कर रहा था। अर्थात लडक़ी ने दिखाने के लिए नंबर को मुस्कान के नाम से फीड कर लिया था। उक्त लडक़ी घर से ट्यूशन की कहकर निकली थी और चंबल कॉलोनी स्कूल जहां पूरी तरह सुनसान रहता है, वहां खड़े होकर ब्यॉयफ्रेंड से बात कर रही थी। 
निर्भया मोबाइल प्रभारी ने बताया कि यह लडक़ी 15 दिन पहले भी एक लडक़े के साथ पकड़ी थी, तब इसने बताया था कि मेरी बहन का देवर है, मैं इसके साथ शादी करना चाहती हूं। निर्भया मोबाइल प्रभारी भदौरिया ने पालकों से अपील की है कि अपने बच्चों पर ध्यान दें, वह घर से ट्यूशन के लिए निकलते हैं, वहां पहुंचे हैं कि नहीं, कभी चेक भी कर लिया करें।