कैदियों को उनके घरवालों से मिलाने के लिए वसूले जा रहे 500 रुपए, महिला का वीडियो वायरल और फिर जानें क्या हुआ

गुजरात में सूरत की लाजपोर जेल का एक ऐसा वीडियो सामने आया है, जिसमें कैदियों की उनके घरवालों से मुलाकात के लिए 500 रुपए वसूलते देखा जा सकता है। वीडियो में दिख रहा है कि एक महिला कुछ लोगों को जेल में किसी कैदी से मिलाने के लिए पैसे मांगती है, जब एक उसकी वीडियो रिकॉर्डिंग करने लगता है तो वह उसे रोकती है। महिला खुद को वकील बताती और फिर दांत निपोरते हुए मानहानि का दावा करने की चेतावनी देती है। इस वीडियो में एक पुलिसकर्मी भी नजर आता है।
loading...
इस वीडियो को लेकर अभी जेल प्रशासन ने कोई पुष्टि नहीं की है। हालांकि, पुलिस का कहना है कि वीडियो की जांच कराई जा रही है। उसके बाद ही कोई कार्रवाई की जाएगी। बहरहाल आप देख सकते हैं कि कैसे कुछ लोगों से पैसे मांगे गए। जिस महिला का वीडियो रिकॉर्ड किया गया। उस महिला ने पुलिसकर्मी नरेश राठौर के खिलाफ सचिन पुलिस थाने में शिकायत की है। जिसमें उसने पुलिसकर्मी पर खुद को बदनाम करने का आरोप लगाया है। सचिन पुलिस ने नरेश राठौर को पूछताछ के लिए थाने बुलाया है। लेकिन जेल सुपरिटेंडेंट मनोज निनामा ने पुलिसकर्मी और महिला को पहचानने से साफ इनकार कर दिया है। 
हालांकि, इसको बड़ा मामला बताकर उन्होंने जांच चल रही होने का दावा किया है। वहीं, कुछ लोगों का कहना है कि उक्त वीडियो पुलिसकर्मी नरेश राठौर ने ही रिकॉर्ड किया है। काफी समय से उसकी ड्यूटी जेल के बाहर लगाई जा रही थी। जिससे परेशान होने के कारण उसने यह वीडियो बनाया है। वीडियो में दिख रहा टोपी वाला व्यक्ति कैदी है। जिसे कुछ समय पहले लाजपोर जेल से ट्रांसफर कर भुज जेल भेज दिया गया था। इस महिला के साथ पुलिस कर्मचारियों की सांठ-गांठ होने की जानकारी भी सूत्रों से मिल रही है।