8 साल का बच्चा बाइक से भर रहा था फर्राटा, गांववालों ने पुलिस को बताया और फिर....

आठ साल का बच्चा बाइक पर फर्राटा भर रहा था। गांव वालों ने वीडियो बनाकर ट्विटर अकाउंट पर पोस्ट कर दिया। साथ ही उसने पुलिस अधिकारियों के ट्विटर अकाउंट को टैग कर दिया। जैसे ही यह मामला डीजीपी के संज्ञान में आया तो उसकी तलाश शुरू हुई। एएसपी यातायात ने बाइक नंबर के आधार पर 11,000 रुपये का ई-चालान किया। 
loading...
काकोरी इलाके के सलेमपुर पतौरा निवासी दूधिये का आठ साल का बेटा मंगलवार शाम उसकी बाइक चला रहा था। गांव के कुछ लोगों ने उसका वीडियो बनाकर परिचितों के सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया। वीडियो को ऋषभ सिंह नाम के व्यक्ति ने अपने ट्विटर अकाउंट पर पोस्ट किया। साथ ही उसने पुलिस अधिकारियों को भी टैग कर दिया। देखते-देखते वीडियो ट्विटर पर लाइक व शेयर किया जाने लगा।

डीजीपी की पूछताछ के बाद हरकत में आई पुलिस
ऋषभ ने वीडियो के साथ बाइक नंबर भी पोस्ट किया। साथ ही लिखा कि यातायात पुलिस की बड़ी लापरवाही है। बच्चा बाइक चला रहा है। पीछे दूध के छोटे-छोटे केन बंधे है। हालांकि बच्चे ने हेलमेट भी लगा रखा है। एएसपी यातायात पुर्णेंदु सिंह के मुताबिक बाइक सलेमपुर पतौरा के दूधिये की है। पुलिस ने 11,500 रुपये का जुर्माना लगाते हुए चालान काट दिया। ट्विटर अकाउंट पर वायरल वीडियो की जानकारी डीजीपी ओमप्रकाश सिंह को हुई। 
उन्होंने वीडियो देखने के बाद एसएसपी कलानिधि नैथानी और एएसपी यातायात पुर्णेंदु सिंह को फटकार लगाई। इसके बाद पुलिस हरकत में आ गई। नए अधिनियम में 30 हजार रुपये का होगा जुर्माना एएसपी यातायात के मुताबिक पुलिस ने चालान 11,500 रुपये का काटा है। लेकिन संशोधित मोटर वाहन अधिनियम के तहत वाहन स्वामी और बच्चे पर करीब 30 हजार रुपये का जुर्माना व सजा कोर्ट सुना सकती है।