बेटे का इलाज कराने गई मां के साथ 9 लोगों ने किया ये काम, फिर चलते ऑटो से भगा दिया

अगरतला, त्रिपुरा की राजधानी. यहां 32 साल की स्मृति (बदला हुआ नाम) का कथित तौर पर अपहरण किया गया. उसके बाद गैंगरेप और फिर उन्हें सड़क पर फेंककर आरोपी फरार हो गए. स्मृति दूसरे दिन बेहोशी की हालत में मिली. इसके बाद उन्हें अस्पताल में भर्ती करवाया गया. इनके पति मामले की शिकायत करने के लिए थाने गए. पर तीन थाने में शिकायत लिखने से मना कर दिया गया. उसके बाद वेस्ट अगरतला महिला थाने में मामला दर्ज हुआ.
loading...
की रिपोर्ट के मुताबिक, त्रिपुरा पुलिस ने 9 में से 6 लोगों को गिरफ्तार किया है. पुलिस का कहना है कि एक ऑटो रिक्शा ड्राइवर ने अपहरण किया था. मामला मंगलवार यानी 24 सितंबर की रात का है. स्मृति का 9 लोगों ने गैंगरेप किया. और फिर 11 : 30 बजे उसे सड़क पर फेंक गए. बुधवार यानी 25 सितंबर को स्मृति शहर से चार किलोमीटर दूर मिली. पुलिस ने बताया कि पीड़िता के पति ने कथित तौर पर 9 लोगों के खिलाफ शिकायत की थी. 6 लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया है. कार्रवाई की जा रही है.
स्मृति अपने बच्चे के इलाज के लिए अगरतला के अस्पताल में गई थी. शाम का वक्त था. उसने एक ऑटो किया. उसमें बैठी. और फिर वो ऑटो गलत डायरेक्शन में जाने लगा. कुछ दूर जाने के बाद ऑटो में 8 लोग और बैठ गए. स्मृति ने मदद के लिए शोर मचाया. रोने लगी. उन सभी 9 लोगों ने स्मृति का रेप किया. उसके बाद शहर के 6 किलोमीटर दूर उसे फेंक दिया. पुलिस के मुताबिक स्मृति शहर से 4 किलोमीटर दूर पाई गई थी. अब उसका अस्पताल में इलाज हो रहा है.
इस मामले में त्रिपुरा के मुख्यमंत्री बिपलब कुमार देब ने डीजीपी से कहा है कि वह सभी आरोपियों को जल्द से जल्द गिरफ्तार करें. वहीं, त्रिपुरा महिला आयोग ने कहा है उन्होंने पीड़िता से मुलाकात की है. पीड़िता ने सभी आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है.