पिता ने ही लिखी बेटी की जीवन के अंत होने की कहानी, जानें बेटी ने ऐसा क्या किया था

भदोही जिले में झूठी शान के लिए अपने 27 वर्षीय विवाहित बेटी की गला रेतकर हत्‍या के बाद फरार हुए पिता को पुलिस ने तीन महीने बाद गिरफतार करते हुए पुरे मामले का खुलासा किया है। बेटी के प्रेम संबंध के कारण पिता ने ऐसा खौफनाक कदम उठाया था। पुलिस को उलझाने के हत्‍यारे पिता ने एक प्‍लान बनाया था। जिसके तहत वह कोलकाता से यहां जंघई रेलवे स्‍टेशन पहुंचा और अपनी बेटी को स्‍टेशन पर बुलाकर उसे सुनसान जगह पर लेजाकर उसकी हत्‍या कर दी।
loading...
दुर्गागंज थाना इलाके में यह घटना बीती 17 मई को हुई थी। पुलिस को ग्रामीणों ने सूचना दी थी की एक सुनसान इलाके में 28 वर्षीय युवती का खून से लथपथ शव पड़ा है। मौके पर पहुंची पुलिस ने पड़ताल की तो पुलिस को पता चला की युवती की किसी धारदार हथियार से गला काटकर हत्या की गई है। ग्रामीणों से जानकारी मिली की यह शव दुर्गागंज थाना क्षेत्र के रहने वाले कृष्ण कुमार पांडेय की बेटी रूचि पांडेय का है।
पुलिस ने जब मृतक के पिता के विषय में पता किया तो जानकारी मिली की वह मुंबई में काम करता है और वहीं पर है, लेकिन जब पुलिस ने इस निर्मम हत्याकांड के पीछे का सच जानने का प्रयास किया तो पता लगा कि मृतक रूचि की पहले शादी हो चुकी थी और उसकी अपने पति से अच्छे संबध नहीं थे जिस वजह से वह अपने पिता के घर पर रहती थी। पड़ताल में यह भी पता लगा कि मृतक रूचि एक लड़के से प्यार करती है। जब पुलिस ने उस लड़के से पूछताछ की तो इस हत्याकांड में रिश्तों को तार तार करने वाला खुलासा हुआ।
मृतक रूचि के प्रेमी के मोबाइल में हत्या के समय की पूरी काल रिकार्डिंग थी, जिससे साफ़ हो रहा था कि उसके पिता ने ही उसको मौत के घाट उतारा है। आनर किलिंग के लिए हत्या करने वाला आरोपी पिता जब पुलिस की गिरफ्त में आया तो उसे अपने किये पर अभी भी कोई पछतावा नहीं है। करीब 20 मिनट की काल रिकार्डिंग में पिता और बेटी के बीच जो हुआ वह सब रिकार्ड था। पुलिस लगातार आरोपी पिता को खोज रही थी पुलिस ने आरोपी पर 5 हजार का इनाम तक घोषित कर दिया था। जिसकी कल देर रात दुर्गागंज थाना इलाके से पुलिस ने गिरफ्तारी कर ली है।