आखिर पत्नी ने ऐसा क्या किया की पति ने बीच बाजार में सबके सामने कर दिया ऐसा काम

केशव रायपाटन कस्बे के रेलवे स्टेशन क्वार्टर में रहने वाले रेलवे गैंगमैन ने सोमवार सुबह पत्नी की धारदार हथियार से गोदकर निर्मम हत्या कर दी। हत्या की सूचना से यहां स्टेशन क्षेत्र में सनसनी फैल गई। केशवरायपाटन पुलिस ने बंूदी की महावीर नगर कॉलोनी निवासी मृतका के पिता जलीस खान की रिपोर्ट पर पति, सास, ससुर पर हत्या व दहेज के लिए प्रताडि़त करने का मामला दर्ज कर लिया। पुलिस ने हत्यारे पति को गिरफ्तार कर लिया। थाना प्रभारी अभिषेक पारीक ने बताया कि सवाईमाधोपुर जिले के मलारना डूंगर थाना क्षेत्र के रूणीचा निवासी रेलवे गैंगमैन असमुद्दीन यहां रेलवे क्वार्टर में पत्नी वन विभाग में वनरक्षक के पद पर कार्यरत तबस्सुम के साथ रहता था। 
loading...
जो दो वर्ष से पत्नी को प्रताडि़त कर रहा था। तबस्सुम के पिता ने बताया कि सास, ससुर भी दहेज व अन्य मामले में उसकी बेटी को प्रताडि़त कर रहे थे। सुबह पति ने उसकी धारदार हथियार से गोदकर हत्या कर दी। हत्या के बाद पति ने पहले मोहल्ले वालों को घटना की जानकारी दी। तब आस-पास के लोगों की सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची और शव कब्जे में लिया।जिसे राजकीय सामुदायिक चिकित्सालय लेकर गए। यहां मेडिकल बोर्ड से पोस्टमार्टम करवाकर शव पिता को सौंपा। पुलिस ने विवाहिता के पति, सास, ससुर पर हत्या व दहेज के लिए प्रताडि़त करने का मामला दर्ज किया।

सनकी पति पहुंचा पुलिस थाने
पहली पत्नी को छोडक़र दूसरी तलाक शुदा पत्नी से शादी करने वाले रेलवे कॉलोनी निवासी गैंगमैन असमुद्दीन सनकी बताया। सुबह पत्नी की धारदार हथियार से निर्मम हत्या कर मोहल्ले में बताने पहुंच गया। आसपास के लोगों से कहता रहा कि उसका घर बर्बाद हो गया। उसने लोगों ने बताया कि पत्नी की हत्या कर दी। तब कॉलोनी में यह खबर आग की तरह फैल गई। बाद में खुद ही पुलिस थाने पहुंच गया। तब उसे पुलिस ने हिरासत में लिया। असमुद्दीन ने पत्नी तबस्सुम के शरीर पर नुकीले धारदार हथियार से एक दर्जन से अधिक घाव किए। 
वारदात के वक्त तबस्सुम की बेटी घर पर नहीं थी। वह बूंदी में अपने नाना के घर रहती बताई।तबस्सुम की पहले कहीं ओर शादी हुई थी तब उसे एक बेटी थी। पहले पति के छोडऩे पर उसकी शादी यहां मूलत: सवाईमाधोपुर जिले के मलारना डूंगर थाना क्षेत्र के रूणीचा निवासी असमुद्दीन से हुई। पुलिस और परिवारजनों के बताया कि दोनों के बीच दहेज को लेकर शादी के बाद से ही अनबन थी। मृतका के शरीर पर गहरे घाव और आधा दर्जन हल्के घाव मिले। वह जब तक वार करता रहा तब तक की तबस्सुम की जान नहीं निकल गई।